लालकृष्ण आडवाणी की तरह, मुरली मनोहर जोशी भी इस बार मैदान में नहीं उतरेंगे |

लालकृष्ण आडवाणी की तरह, मुरली मनोहर जोशी को भाजपा द्वारा नज़र अंदाज़ करा गया | वह भी इस बार मैदान में नहीं उतरेंगे।

भाजपा के दिग्गज नेता मुरली मनोहर जोशी ने उत्तर प्रदेश में अपने कानपुर निर्वाचन क्षेत्र के मतदाताओं को एक संदेश में आज घोषणा की कि उन्हें उनकी पार्टी ने लोकसभा चुनाव नहीं लड़ने के लिए कहा है। 85 वर्षीय मुरली मनोहर जोशी , अगले महीने से शुरू होने वाले लोकसभा चुनाव प्रतियोगिता मे भाग नही लेंगे | यह लालकृष्ण आडवाणी के बाद दूसरे नेता हैं जिन्हें बीजेपी ने नदारत करदिया है | इस तरह से भाजपा मे दिग्गज नेताओं को नज़रंदाज़ करना अच्छे संकेत नही हैं |


मुरली मनोहर जोशी को जिस तरह से अपनी पार्टी द्वारा कहा गया है, उससे ज्यादा गहरी नाराजगी है कि उन्हें इस बार मैदान में नहीं उतारा जाएगा। जब भाजपा महासचिव रामलाल ने संदेश दिया और श्री जोशी को घोषणा करने के लिए कहा कि वह चुनाव नहीं लड़ेंगे, तो उन्होंने ये घोषणा करने से इनकार कर दिया।

सूत्रों का कहना है कि श्री जोशी ने कहा कि यदि इस तरह का निर्णय अगर लिया गया था, तो कम से कम पार्टी प्रमुख (अमित शाह) को उनके पास आकर उन्हें बताना चाहिए था।

सोमवार को उनका संदेश पढ़ा गया: “कानपुर के प्रिय मतदाताओं, श्री रामलाल महासचिव (संगठन), भारतीय जनता पार्टी ने मुझे आज अवगत कराया कि मुझे कानपुर और अन्य जगहों से लोकसभा चुनाव नहीं लड़ना चाहिए |

श्री जोशी, जो पूर्व में केंद्रीय मंत्री और भाजपा अध्यक्ष भी रह चुके हैं, उन्हें उत्तर प्रदेश में प्रचारकों की सूची में भी शामिल नहीं किया गया है।

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *